Important work…

0
320

Important work being done by National Senior Citizens Association…

  •  Fifty percent concession in the examination and treatment expenses of senior citizens to private doctors – it has been started by Patna’s famous doctors cum association’s chief patron Dr. C.P. Thakur and on the request of the union including Patna, Dehri, Sasaram by giving written consent by doctors of other cities of the state, senior citizens are being given a concession of fifty percent in the cost of screening and treatment. It continued throughout the attempt of the Association for enforcement in India.
  •  Formation of Senior Citizen Cell in Police Stations – It has been started by Mr. Ashok Mittal, S.P, Gajiawad (Delhi) and Mr. Vikash Vaibhav, S.P, Rohtas (Bihar) under which two police officers and nine senior citizens representative in the police stations A “Senior Citizen Cell” is formed by incorporating. This cell helps in resolving the related problems of senior citizens within the police station area. It continued throughout the attempt of the Association for enforcement in India.
  •  Senior Citizens Maintenance Act-2007 – In collaboration with the then Union Social Justice and Empowerment Minister Smt. Meera Kumar this law has been implemented. Efforts are being made to make it work strictly in all the states and in the senior citizens. Information is being given after publicity.
  •  Cancellation of recommendation to end concession to senior citizens in railway fares – In 2015 the “High Label Railway Restructuring Committee” constituted by the then Central Government to assess the losses incurred in railways to reduce the losses of senior citizens Was recommended to end the concession in railway fares, which was organized in the whole of India to stop the cancellation of the government, Correspondence was held several times and the recommendation was postponed on 24 March 2016 under the banner of the Association with a huge demonstration front of the Prime Minister with the elders of the country.
  •  Getting APL elders in Bihar also included in Chief Minister Older Pension Scheme – This scheme was earlier applicable only to BPL elders in Bihar. The movement has been going on since 2009 to include APL elders in the state. As a result in 2019 the pension of all senior citizens of the state to be given pension by the Government of Bihar, ending the obligation of APL-BPL in this scheme. Now pension is giving to all senior citizens.
  •  To launch Mukhyamantri Senior Citizen Pilgrimage Scheme – The Chief Minister Senior Citizens Pilgrimage Scheme has been launched by the Delhi Government with the efforts of the Association. Under this scheme there is a provision to make pilgrimage of seventy seven thousand elderly people every year at government expense. Efforts are being made to introduce this scheme in all the states as well.
  •  Contribution to Relief Disaster Fund – The amount of assistance is being contributed from time to time in Prime Minister and Chief Minister Relief Disaster Fund.
  •  Organizing group trips – For the purpose of warm-heartedness and belonging among senior citizens a mass travel is organized from time to time and historical and religious places.
  •  Legal assistance to be provided through Legal Services Authority – Through the State and District Legal Services Authority cooperation is being provided in providing legal assistance to senior citizens.
  •  To honor and motivate the youth who respect their elders – By organizing the program from time to time, honoring their parents and the elders who serve and honor the elders with the “Shravan Putar Samman”, respecting the elders of the young generation being motivated to do.
  •  Respect for Senior Citizens – Every year on the occasion of International Old Day and other programs of the Association, the elderly who are more than 80 years of age are honored with organ wear.

नेशनल सीनियर सिटीजन एसोसिएशन द्वारा किये जा रहे महत्वपूर्ण कार्य

  • वरिष्ठ नागरिकों को निजी डॉक्टरों के यहाँ जाँच एवं इलाज खर्चे में पचास प्रतिशत की रियायत – इसकी शुरुआत पटना के प्रसिद्ध चिकित्सक सह संघ के मुख्य सरंक्षक श्री सी.पी.ठाकुर द्वारा की गई है तथा संघ के आग्रह पर पटना,डेहरी,सासाराम सहित राज्य के अन्य शहरों के डॉक्टरों द्वारा अपनी लिखित सहमति प्रदान कर वरिष्ठ नागरिकों को जाँच एवं इलाज खर्चे में पचास प्रतिशत की रियायत दी जा रही है।इसे पुरे भारत में लागू कराने का प्रयास जारी है।
  • पुलिस थानों में सीनियर सिटीजन सेल का गठन – इसकी शुरुआत गजियावाद (दिल्लीके एसपी.श्री अशोक मित्तल एवं रोहतास (बिहार)के एसपी श्री विकाश वैभव द्वारा की गई है जिसके तहत थानों में दो पुलिस अधिकारी एवं नव वरिष्ठ नागरिकों के प्रतिनिधी को शामिल कर सीनियर सिटीजन सेल” का गठन होता है।यह सेल थाना क्षेत्र के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों के सम्बन्धित समस्यायों का निपटारा कराने में सहयोग करती है।इसे भी पुरे भारत में लागू कराने हेतु संघ का प्रयास जारी है।
  • वरिष्ठ नागरिक भरणपोषण अधिनियम-2007 – तत्कालिक केंद्रीय सामाजिक न्याय एव अधिकारिता मंत्री श्रीमती मीरा कुमार के सहयोग से इस कानून को लागु करवाया गया।सभी राज्यो में इसे कड़ाई से कार्यरत कराने का प्रयास किया जा रहा है।तथा वरिष्ठ नागरिकों में इसका प्रचारप्रसार कर जानकारी दी जा रही है।
  • रेलवे के किराये में वरिष्ठ नागरिकों को मिल रहे रियायत को समाप्त करने की सिफारिश रदद् करवाना  2015 में तत्कालिक केंद्र सरकार द्वारा रेलवे में हो रहे घाटे के आंकलन के लिए गठित हाई लेबल रिस्ट्रक्चरिंग कमिटी” ने रेलवे घाटा कम करने के लिए वरिष्ठ नागरिकों को रेल किराये में मिल रहे रियायत को समाप्त करने की सिफारिश कर दिया था जिसे रदद् कराने के लिए पूरे भारत में आंदोलन चलाया गया,सरकार के साथ अनेको बार पत्राचार किया गया तथा 24 मार्च 2016 को संघ के बैनर तले देश के बुजुर्गो के साथ प्रधानमंत्री के समक्ष विशाल प्रदर्शन कर इस सिफ़ारिश को स्थगित करवाया गया।
  • बिहार में एपीएल बुजुर्गों को भी मुख्यमंत्री बृद्धजन पेंशन योजना में शामिल करवाना – यह योजना बिहार में पहले सिर्फ बीपीएल बुजुर्गों के लिए लागू थी।इस योजना में राज्य के एपीएल बुजुर्गो को भी शामिल कराने के लिए 2009 से ही संघ द्वारा आंदोलन किया जा रहा था परिणामस्वरूप 2019 में बिहार सरकार द्वारा इस योजना में एपीएलबीपीएल की बाध्यता समाप्त कर राज्य के सभी वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन दिया जा रहा है।
  • मुख्यमंत्री वरिष्ठ नागरिक तीर्थ योजना की शुरुवात करवाना– संघ के प्रयास से दिल्ली सरकार द्वारा मुख्यमंत्री वरिष्ठ नागरिक तीर्थ योजना की शुरुवात की गई है।इस योजना के तहत हर साल सतहत्तर हजार बुजुर्गों को सरकारी खर्चे पर तीर्थयात्रा कराने का प्रावधान है।देश के अन्य सभी राजयों में भी इस योजना की शुरुवात कराने का प्रयास किया जा रहा है।
  • राहत आपदा कोष में योगदान – समयसमय पर प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री राहत आपदा कोष में सहायता राशी का योगदान दिया जा रहा है।
  • सामूहिक यात्रायों का आयोजन – वरिष्ठ नागरिकों में शौहार्द एवं अपनापन के उद्देश्य से समयसमय पर सामूहिक यात्रा का आयोजन कर ऐतिहासिक एवं धार्मिक स्थलों का भर्मण कराया जाता है।
  • विधिक सेवा प्राधिकार के माध्यम से क़ानूनी सहायता दिलवाना – राज्य एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकार के माध्यम से वरिष्ठ नागरिकों को क़ानूनी सहायता दिलवाने में सहयोग किया जा रहा है।
  • अपने बुजुर्गों का सम्मान करने वाले युवायों को सम्मानित एवं प्रेरित करना – समयसमय पर कार्यक्रम का आयोजन कर अपने मातापिता एवं बुजुर्गों का सेवा व सम्मान करने वाले युवायों को श्रवण पुत्र सम्मान” से सम्मानित कर युवापीढ़ी को अपने बुजुर्गो का सम्मान करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।
  • वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान  हर साल अंतराष्ट्रीय बृद्ध दिवस एवं संघ के अन्य कार्यक्रमो में 80 साल से अधिक उम्र वाले बुजुर्गो को अंग वस्त्र से सम्मानित किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here